हर एक आज़ाद देश का अपना एक ध्वज है। एक आज़ाद देश की यही सबसे बड़ी पहचान होती है। ब्रिटिश राज से 15 अगस्त 1947 को आज़ाद होने के कुछ दिनों पहले ही भारत के राष्ट्रिय ध्वज को निर्वाचक असेंबली ने 22 जुलाई 1947 को स्वीकारा था।


हमारा राष्ट्रीय ध्वज  तिरंगा

15 अगस्त 1947 से 26 जनवरी 1950 तक यही हमारा स्वतंत्र ध्वज था। भारतीय ध्वज को ‘तिरंगा’ Tiranga भी कहा जाता है | जिसके तले पूरा राष्ट्र एक सूत्र में बंधा होता है। उसी तरह हमारे भारत देश का एक राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा – Indian Flag है,जो कि भारत देश की आन, बान और शान है।


Flag of India

भारत के राष्ट्रीय ध्वज की रचना में कई बार बदलाव हुए। पहले ध्वज का इस्तेमाल आजादी के प्रति अपनी निष्ठा को दर्शाने के लिए होता था। इसके बाद में राष्ट्रीय ध्वज राजनीतिक विकास का भी प्रतीक बना। जिसें तिरंगा कहा जाता है।
लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत के राष्ट्रीय ध्वज को तिरंगा क्यों कहा जाता है, इसके लिए हम आपको बता दें कि – भारत का राष्ट्रीय ध्वज तीन रंगों से मिलकर बना है इसलिए इसे “तिरंगा” – Tiranga कहा जाता है तो चलिए जानते हैं हमारे राष्ट्रीय ध्वज : तिरंगा " के बारे में कुछ खाश तथ्य -




Amazing Facts About " Tiranga "

  1. यह चक्र सम्राट अशोक की राजधानी सारनाथ (Sarnath) में स्थापित सिंह के शीर्षफलक के चक्र में दिखने वाले चक्र की त‍रह है
  2. स्क्वाड्रन लीडर संजय थापर (Squadron Leader Sanjay Thapar) ने पहली बार 21 अप्रैल 1996 के दिन तिरंगे की शान बढाते हुए एम. आई.-8 हेलिकॉप्टर से 10000 फीट की ऊंचाई से कूदकर देश के झंडे को उत्तरी ध्रुव में फहराया था
  3. राष्‍ट्रपति भवन के संग्रहालय में एक छोटा सा तिंरगा रखा हैै जिसे सोने के स्‍तंभ पर हीरे जवाहरात से बनाया गया है
  4. तिरंगे का निर्माण आंध्र प्रदेश (Andra Pradesh) के मछलीपट्टनम के निकट भाटलापेन्नुमारु नामक क्षेत्र में रहने वाले देशभक्त पिंगली वेंकैया (Pingali Venkaiah) ने किया था 
  5. भारत केे लिए पहला झंडा स्‍वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) की शिष्‍या सिस्टर निवेदिता ने बनाया था लेकिन इस ध्‍वज में केवल दो ही रंग लाल और पीले थेे
  6. भारत के आजाद होने के बाद 22 जुलाई 1947 के दिन पं जवाहरलाल नेहरू (Jawahar Lal Nehru) ने संविधान सभा की सहमति से तिरंगे झंडे को कानूनी रूप से राष्ट्रीय ध्वज घोषित कर दिया था
  7. 22 जुलाई 1947 से पहले झंडे के बीच में चक्र की जगह चरखा हुआ करता था
    वर्ष 2002 से पहले किसी भी भारतीय को कहीं भी किसी भी समय तिरंगे को फहराने की अनुमति नहीं थी लेकिन 26 जनवरी 2002 के बाद से किसी भी देशवासी को कहीं भी किसी भी समय सम्‍मान पूर्वक तिरंगे को फहराने की अनुमति मिल गई
  8.  जब तिरंगे को किसी अधिकारी की गाड़ी पर लगाया जाए तो उसे सामने की ओर बीचों बीच या कार के दाईं ओर लगाया जाता है
  9. तिरंगे हमेशा ऐसे स्‍थान पर लगाया जाना चाहिए जहॉ से वह स्पष्ट रूप से दिखाई दे सके !
  10. भारत केे हुगली (Hooghly) में मात्र एक लाइसेंस प्राप्त संस्थान है जो झंडा बनाने का और सप्लाई करने का काम करता है
  11. भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज सबसे पहले सबसे ऊॅचाई पर 29 मई 1953 को माउंट एवरेस्ट की चोटी पर शेरपा तेनजिंग (Sherpa Tenzing) और एडमंड माउंट हिलेरी (Mount Edmund Hillary) द्वारा फहराया गया था
  12. देश का सबसे ऊॅचा और सबसे बडा तिरंगा रांची के पहाड़ी मंदिर पर फहराया गया यह तिरंगा 66 फुट उंचा 99 फुट चौड़ा है यह तिरंगा जमीन से 493 फीट की ऊंचाई पर है़
  13. वैसे तो हमेशा तिरंगा लहराता रहता है लेकिन किसी महान व्‍यक्ति के निधन पर राष्‍ट्रपति के आदेश पर तिरंगे को थोडा सा झुुका दिया जाता है
  14. जब तिरंगे का किसी मृत शरीर पर डाला जाता है तो उस तिरंगे को दोवारा नहीं फहराया जाता है उसके बाद उसे पूर्ण सम्‍मान के साथ या ताे जलाया जाता है या फिर पथ्‍‍थर बॉध कर जल में समाधि दी जाती है
  15. भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज अंतरिक्ष में 1984 में विंग कमांडर राकेश शर्मा (Rakesh Sharma) द्वारा फहराया गया था  
  16. सबसे बडा मानव तिरंगा वर्ष 2014 में 5000 स्वयंसेवकों द्वारा चेन्‍नई में बनाया गया था
  17. भारत का संसद एक ऐसा भवन है जहॉ एक साथ तीन तिरंगे फहराये जातेे हैंं
  18. किसी भी दूसरे झंडे को राष्ट्रीय झंडे से ऊंचा या ऊपर नहीं लगा सकते और न ही बराबर रख सकते हैंं
  19. आजाद देश में लाल किले से तिरंगे झंडे को सर्वप्रथम नेहरू ने 16 अगस्त 1947 में फहराया था
  20.  भारत के झंडे की चौड़ाई और लम्‍बाई का अनुपात 2:3 है


तो दोस्तों ये थी कुछ खाश तथ्य हमारे राष्ट्रीय ध्वज " तिरंगा " के बारे में ! आशा हैं आपको ये जानकार अच्छा लगा होगा !  अगर आपको ये पपोस्ट अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!


" ये आन तिरंगा है ये शान तिरंगा हैै मेरी जान तिरंगा है "



Some Facts about Indian Flag, India Flag, History of Indian Flag, Flag of India, Interesting And Lesser Known Facts About The Indian National Flag,