गणतंत्र दिवस हमारे और प्रत्येक भारतीय के लिए बहुत ही गर्व का दिन होता है. जिसे हम सब बहुत ही उत्साह के साथ भव्य समारोहों का आयोजन करके मनाते हैं. यह दिन विशेष तौर पर उन सभी देशभक्तों को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए मनाया जाता है



Republic Day ( 26 january )
Republic Day ( 26 january )


जिन्होंने देश के खातिर अपनी जान की भी परवाह न करते हुए सब कुछ न्यौछावर कर दिया. यह दिन हमें सिखाता हैं कि हमारा एक ही धर्म और जाति है हम भारतीय हैं. आज हम आपको 26 जनवरी से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में बताने जा रहे हैं हो सकता है कि आप ये सब न जानते हों तो अगर आपको ये अच्छी लगे तो बिना कुछ सोचे शेयर कर देना -



- Amazing Facts About Republic Day - 

  1. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में इसलिए भी चुना गया क्योकिं 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था।1950 में इसी दिन 10:18 मिनट पर भारतीय संविधान लागू किया गया था। और इसके 6 मिनट बाद भारत के पहले राष्ट्रपति डाॅ. राजेंद्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाऊस में राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी
  2. भारतीय संविधान पूरी तरह से हाथ से लिखा गया था, जो हिंदी और अंग्रेजी दोनों में है. हाथ से लिखी गई सविधान की असली काॅपी को हिलियम से भरे बक्शों में संसद भवन की लाइब्रेरी में रखा गया है
  3. 1950 से लेकर 1954 तक गणतंत्र दिवस की परेड के लिए कोई जगह फिक्स नही थी। कभी इर्विन स्टेडियम, किंग्सवे, लाल किला तो कभी रामलीला मैदान में गणतंत्र दिवस मनाया जाता था। फिर 1955 में परेड के लिए राजपथ फिक्स कर दिया गया।
  4. परेड के दौरान राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी जाती है. दरअसल, ये सलामी भारतीय सेना की 7 तोपों से दी जाती है. ये तोपें 1941 में बनाई गई थी. राष्ट्रगान शुरू होते ही पहली सलामी और फिर 52 सेकंड बाद आखिरी सलामी दी जाती है
  5. हर साल 26 जनवरी पर किसी न किसी देश को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया जाता है। पहले गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि बने थे “इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णों”
  6. हर साल Republic Day की परेड के अंत में “Abide With Me” नाम का Christian song बजाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि ये महात्मा गांधी का पसंदीदा गाना था
  7. शायद आपको ना पता हो, कि गणतंत्र दिवस समारोह 3 दिन तक चलता है. 29 जनवरी को विजय चौक पर “Beating Retreat Ceremony” का आयोजन करके गणतंत्र दिवस का समापन किया जाता है
  8. 26 जनवरी 1950 को 10.18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया.
  9. भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है. इसके 448 आर्टिकल्स 22 हिस्सों, 12 शेड्यूल और 97 संशोधन है. इसके निर्माण में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था. भारतीय संविधान के वास्तुकार डॉ. भीमराम अम्बेडकर प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे।
  10. देश को गौरवशाली गणतंत्र राष्ट्र बनाने में जिन देशभक्तों ने अपना बलिदान दिया. उन्हे याद कर इसी दिन देश के प्रधानमंत्री, देश के हजारों जवानों के सम्‍मान में अमर ज्‍योति पर पुष्‍प अर्पण करते हैं। 21 गन सैल्‍यूट, बंदूकों और तोपों से सम्‍मान में सलामी देते हैं। यह सम्‍मान उस दौरान दिया जाता है जब राष्‍ट्रपति, राष्‍ट्रीय ध्‍वज को फहराते हैं
  11.  गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 को दिल्ली के राजपथ पर हुई थी



तो दोस्तों , आशा हैं की इनमे से बहुत सारी बातें जो शायद पूरी तरह से आपआपको भी नहीं पता था उन्हें जानकार आपको अच्छा लगा होगा  ! ये ये जानकारियां आप अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर कर दें ताकि उन्हें में इन सब फैक्ट्स के बारे में पता चले ! तो मिलते है अगले पोस्ट में तब तक के लिए ....GoodBy