हम लोगो ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था की बड़ी और भरी भड़कम दिखने वाली टीवी अब छोटी होकर हमारे घरो के दीवारों पर लगी होगी,हमने कभी ये नहीं सोचा था की एक एक किलो का फ़ोन अब छोटी होकर हमारे जेबों में पड़ी रहेगी ? पहले कम्प्यूटर फिर कंप्यूटर से लैपटॉप, फिर Tablet और अब smartphone, Smartwatch. जल्द ही smartphone का भी एक alternative अविष्कार कर दिया जाएगा जो की विकास का एक सफल पायदान होगा.

NANOTECHNOLOGY_KYA_HAI
Nano Technology

ये सब नैनोटेक्नोलाजी की ही तो देन हैं , आज के समय में तो कंप्यूटर वाला काम हम छोटे से गैजेट में ही कर सकते हैं. इस नैनो टेक्नोलॉजी के कारण ही आज लोगों की जिंदगी इतनी आसान हो पाई है. अप्लाइड सांइस के इस हिस्से में 100 नैानेमीटर से भी छोटे उपकरणों या तत्व का अध्ययन किया जाता है. आज विज्ञान के इस क्षेत्र में हुई उन्नति से इंसानों के लिए जीवन को व्यवस्थित कर पाना कहीं न कहीं आसान हुआ है. तो चलिये मानवीय जीवन को आसान बनाने वाली इस तकनीक के बारे में और समझते हैं !




क्या हैं नैनोटेक्नोलॉजी ?

नैनोटेक्नोलाजी एक ऐसा अध्भुत क्षेत्र है जहा पर nanoparticles (सूक्ष्म चीजो) का अभ्यास किया जाता है और उनके इस्तेमाल विविध क्षेत्र में इस्तेमाल करने का तरीका ढूंढा जाता है. नैनोटेक्नोलाजी लगभग सभी क्षेत्र में मौजूद है, जैसे Nanotechnology in chemistry, biology, physics, materials science and engineering आदि.

अपने Smartphone में जो Processor होता है वह एक नैनोटेक्नोलाजी का अविष्कार है. Processor से अपने फ़ोन की सभी चीजे मैनेज की जाती है , लेकिन इसकी size बेहद ही कम होती है. इतने कम size में बेहद बड़ा काम करने की क्षमता होती है जो नैनोटेक्नोलॉजी से अभ्यास कर के रिसर्च किया जाता है.


ये भी पढ़ें -
  » Sitemap क्या है और कैसे बनाये ?
  » Fetch As Google क्या हैं और कैसे करे ?
  » Cyber Crime क्या हैं और इससे कैसे बचे ?



क्या है इसके फायदे ?

इसके फायदे बहुत है लेकिन मैं उनमे से कुछ सामान्य उदाहरण दे रहा हूँ जिसका प्रयोग हमारी डेली लाइफ में होती ही रहती हैं -

» पहले हमारे घरो में बड़ी सी टीवी होती थी लेकिन अब वो बदलकर मात्र एक बड़ी सी प्लेट की तरह हो गयी है जिसे हम जब चाहे तब जहाँ चाहे वहां लगा सकते हैं, यानी की इस टेक्नोलॉजी की मदद से अब चीजों को इतना छोटा कर दिया गया है की वो अब बहुत आसान लगने लगा हैं!


» इंजीनियरिंग के छात्रोने यह माना की नैनोटेक्नोलाजी के वजह से उनका किसी भी विषय को समझना बहुत आसान हो गया है. Nanotechnology in Medical यह क्षेत्र में भी इस आविष्कार को काफी सहारा गया है. इस तकनीक के वजह से काफी लोगो की जान बचाई गई है. नए औषधी का production हुआ है जिससे की दुनिया को बिमारियों से मुखत कराया जा सकता है


» इस तकनीक के वजह से एक जगह से दुसरे जगह पे पैसों का लेन देन काफी आसान हो गया है. best MBA colleges in Bhopal के छात्रो ने यह स्वीकार किया है की नैनोटेक्नोलाजी के वजह से दुनिया छोटी हो गई है और उन्हें बहुत मदद मिलती है.


ये भी पढ़ें -
  » Zip File क्या है और कैसे खोले ?
  » LI-FI Technology क्या हैं ?
  » Bounce Rate क्या हैं ?



क्या है इसके नुकसान

आपलोगो को पता ही होगा की किसी भी चीजों की कुछ अच्छाई होती है तो उसमे कुछ बुराई भी होती हैं इसलिए हम आपको इसकी कुछ नुक्सान के बारे में भी बताने वाले है -

» इंसान अपने smartphone पे इतना ज्यादा वक़्त बिताते है की वह बहुत आलसी,और अलसियत से मुखत (addicted) हो गए है.

» नैनोटेक्नोलाजी के वजह से से बहुत से बीमारियों का इलाज निकला है लेकिन इसी तकनीक के वजह से लोग बहुत बीमार भी हुए है.

» छात्र किताबों को पढना भूल गए और उनके याद करने की काबिलियत पे भी काफी असर पडता है.

» इस तकनीक का गलत इस्तेमाल के वजह से बहुत से देशों में लड़ाई और यहाँ तक की परमाणु बम का हमला भी हो सकता है.


Conclusion

आशा है की आपको अब अच्छी तरह समझ आ गया होगा की "नैनोटेक्नोलॉजी क्या है ( What Is Nano Technology ) हिंदी में -" अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें