हम सभी की सोच एक दूसरे से काफी अलग होती है ! हर किसी का एक अलग सपना होता है, हर इंसान का अपना एक Aim होता है जो उसके लिए पूरा करना जरुरी होता हैं, इसलिए आज मैं आपके लिए एक नई टॉपिक लेकर आया हूँ  "CA (Chartered Accountant) क्या है और कैसे सीखें ?"
ca kaise bane
CA Course Introduction

अगर आप भी अपना करियर Chartered Accountant में बनाना चाहते है और इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें, जहाँ हमने CA (Chartered Accountant) के बारे पूरी जानकारिया देने की कोशिश की हैं की CA का कोर्स करने के लिए क्या-क्या चीजें जरूरी है. आप CA का कोर्स किस तरह से कर सकते हैं, CA का क्या काम होता है. और CA बनने के बाद आप किस तरह से जॉब कर सकते हैं? तो चलिए जानते हैं -


CA (Chartered Accountant) क्या होता हैं ?

इस कोर्स में आपको हिसाब किताब रखने के बारे में बताय जाता है, इसका बेसिक काम होता हैं लोगो को Financial Guide, Business Accounting, Tax Service जैसे चीजों के बारे में जानकारियां दी जाती हैं, जिससे की आपको बैंकिंग, या किसी भी क्षेत्र में एकाउंटेंसी की जॉब आसानी से मिल जाएगी | एक बार जब आप Chartered Accountant की पढ़ाई पूरी कर लेते है, और CA बन जाते हैं तो आपको इंटरनेशनल लेवल पर बड़ी बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब मिलने  संभावना रहती है, लेकिन इसकी पढ़ाई कर इसकी डिग्री लेनी बहुत ही मुश्किल होती हैं, इसके लिए आपको खुद ही अच्छी तरह से तैयार करना होता है और हर पल खुद को अपडेटेड रखना होता हैं !



क्या है CA (Chartered Accountant बनने की योग्यता 

CA (Chartered Accountant Exam आप किसी भी Faculty  से दे सकते है, चाहे वो बंदा साइंस से हो , आर्ट्स से हो या फिर कॉमर्स से हो, लेकिन अगर आप CA बनना चाहते है और अभी तक आपने 10th का एग्जाम नहीं दिया है तो, हमारी ये सलाह रहेगी की आप कॉमर्स ही लें, क्योंकि इस सब्जेक्ट को लेने से CA  की पढ़ाई में काफी मदद मिलेगी ! भले ही आप उसके बाद आपको CPT में रजिस्ट्रेशन करवाना होगा उसके बाद आपको दसवीं से ही इसकी तैयारी शुरू करनी होगी,भले ही आप रजिस्ट्रेशन करवा लें लेकिन इसका एग्जाम बारहवीं के बाद ही देना होता हैं! साथ ही साथ आपको बता दें की आपको दसवीं में भी कम से कम 50% नंबर आने चाहिए !

ca course
Click Here To Know More This Book, And price

क्या होती हैं CPT Examination 

अगर आप CA बनना चाहते है तो सबसे पहले आपको दसवीं पास कर CA Foundation कोर्स मेंएडमिशन कराना होगा ! पहले इसका नाम "CPT" था लेकिन बाद में इसे बदलकर "CA Foundation Course" कर दिया गया ! तो पहले आपको इस में एडमिशन लेना होगा तभी आप बारहवीं के बाद CA Exam का पहली एंट्रेंस एग्जाम दे पाएंगे।  ये कोर्स एक तरह का Entery Level Test होता हैं जो हर साल मई या नवम्बर महीने में होता हैं ! इसके लिए आपको इसके ऑफिसियल वेबसाइट ICAI ( The Institute Of Chartered Accountants Of India ) पर जाना होगा, जहाँ विजिट कर दसवीं पास करने वाले स्टूडेंट्स अप्लाई कर सकते हैं साथ ही साथ यहाँ आपको एग्जाम रिलेटेड मटेरियल भी मिल जाता है जिसकी मदद से आप अच्छी तरह से तैयारी कर सकते हैं !


क्या होती है इसके सिलेबस ?

यहाँ मैंने निचे इसके सिलेबस के बारे में जानकारिया दी है लेकिन आपको बता दें के ये साड़ी सिलेबस Preveous Year के है, और हो सकता है की ये सभी सिलेबस चेंज हो , तो आपको इसकी जानकारी इसके ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ही लेनी होगी। 

EXAM 1 : Fundamentals OF Accounting 
EXAM 2 : Quantitative Aptitude 
EXAM 3(A): Mercantile Law 
EXAM 3(B): General Economics 
EXAM 4(A) : General English 
EXAM 4(B): Business Communications And Ethics


करना होगा IPCC के लिए रजिस्ट्रेशन 

जब आप CPT परीक्षा को पास कर लेते हैं. तो उसके बाद आपको CA कोर्स करने की अगली प्रोसेस करनी पड़ती है. और अगली प्रोसेस में आपको IPCC की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होता है. यह रजिस्ट्रेशन आपका तब होता है. जब आप IPCC यानि Integrated Professional Competence Course परीक्षा को पास कर लेते हैं. यदि आप इस परीक्षा में फेल हो जाते हैं. तो आप इस परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करवा सकते हैं.CPT की तरह IPCC का एग्जाम भी साल में दो बार होता है. पहला एग्जाम मई महीने में होता है और दूसरा नवंबर में होता है

    

IPCC चार्टर्ड अकाउंटेंट यानी CA बनने का दूसरा चरण होता है. IPCC के एग्जाम दो अलग-अलग ग्रुप में होते हैं पहले ग्रुप में 4 एग्जाम होते हैं.जिनमे एकाउंटिंग,बिजिनेस लॉज़ , एथिक्स और कम्युनिकेशन,कास्ट एकाउंटिंग एंड फाइनेंसियल मैनेजमेंट,टैक्सेशन एग्जाम शामिल है. और दूसरे ग्रुप में 3 होते हैं. जिनमे एडवांस्ड एकाउंटिंग (Advanced Accounting),ऑडिटिंग एंड अस्सुरांस ( Auditing And Assurance),इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एंड स्त्रतेर्गिक मैनेजमेंट ( Information Technology And Strategic Management) एग्जाम शामिल है. लेकिन आपको दूसरे ग्रुप से पहले पहले ग्रुप के चारों एग्जाम को पास करना जरूरी होता है. और C.A बनने की अगली प्रोसेस के लिए आपको इन दोनों ग्रुप के सभी एग्जाम को पास करना होगा. इन सभी एग्जाम में पास होने के लिए आपको कम से कम हर सब्जेक्ट में 40% नंबर्स चाहिए और आपका टोटल परसेंटेज 50% होना चाहिए.



उसके बाद लेकिन होगी ट्रेनिंग

जैसे ही आप IPCC की परीक्षा को पास कर लेते हैं तो उसके बाद मैं आपको 3 साल की प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के लिए अप्लाई करना होता है जिसे आर्टिकलशिप भी कहते हैं. लेकिन जैसे ही आप के 3 साल पूरे हो जाते हैं उसके 6 महीने बाद C.A का अंतिम एग्जाम होता है. और यह एग्जाम एक बहुत ही एडवांस लेवल का एग्जाम होता है. इस एग्जाम को भी दो ग्रुप में बांटा गया है. यह एक बहुत ही कठिन परीक्षा होती है. क्योंकि इस एग्जाम को हार्ड इसलिए बनाया गया है. इस परीक्षा को पास करते ही आप एक ही C.A की डिग्री प्राप्त कर लेंगे और C.A बन जाते हैं. तो इसके लिए आपको मेहनत करने की जरूरत होती है. इसके पहले ग्रुप में 4 एग्जाम होते हैं जैसे

Financial Reporting, Strategic Financial Management,Advanced Auditing and Professional Ethics,Corporate and Allied Laws और इसके दूसरे ग्रुप में भी चार ही एग्जाम होते हैं. जैसे Advanced Management Accounting,Information Systems Control and Audit,Direct Tax Laws,Indirect Tax Laws तो यदि आप इन सभी एग्जाम को पास कर लेते हैं. तो एक चार्टर्ड अकाउंटेंट यानी C.A कहलाए जाएंगे.जैसे ही आप C.A कोर्स की अंतिम परीक्षा को पास कर लेते हैं. तो उसके बाद में आप को अपने आप को ICAI कंपनी में अपने आपको रजिस्टर करना होता है. एक चार्टेड अकाउंटेंट की तरह तभी आप एक सीए कहलायेंगे.



तब मिलेगी जॉब 

जब आप एक CA की डिग्री प्राप्त कर लेते हैं और C.A बन जाते हैं. तो उसके बाद में आपको जॉब के लिए कहीं पर जाने की जरूरत नहीं है. क्योंकि ऐसी बहुत सी कंपनियां है जिनको C.A की जरूरत होती है आपको बस एक बार उनमें जाकर इंटरव्यू देना होगा उसके बाद में आपको कंपनी अपने आप बुला लेती है. और यह एक बहुत ही प्रोफेशनल जॉब है. इसलिए आपको इसमें बहुत ही अच्छी सैलरी मिलती है. इसमें आपको कंपनी की वित्तीय व्यवस्था, बैलेंस शीट बनाना, टैक्स रिटर्न जैसे काम करने होते हैं. और यदि आप किसी कंपनी में जॉब नहीं करना चाहते हैं. तो आप अपनी खुद की प्रॉपर्टी खोल सकते हैं आप अपने खुद का एक ऑफिस बना सकते हैं जहां पर आप दूसरे लोगों को इन सभी चीजों से संबंधित सलाह दे सकते हैं. ऐसे बहुत से C.A भी हैं. जो कि अपने खुद का ऑफिस खोलकर बैठे हुए हैं. उनको भी C.A की जरूरत होती है. क्योंकि उनके पास बहुत ज्यादा काम होता है. तो आप उनके पास जाकर भी काम कर सकते हैं. यानी कि आप को C.A करने के बाद जॉब के बहुत सारे रास्ते खुल जाते हैं. क्योंकि हर एक कंपनी को C.A की जरूरत होती है. उसको अपने कारोबार को संभालने के लिए CA चाहिए होता है.

तो यदि आपका सपना भी सीए बनने का तो आप CA बन सकते हैं. और यदि आप अब दसवीं क्लास में है. तो आपको अभी ही से C.A की तैयारी शुरु कर देनी चाहिए.